Top 56+ Bible Verses about Marriage – Love Relationships and Wedding Invitations

Romans 13:8 आपस के प्रेम से छोड़ और किसी बात में किसी के कर्जदार न हो; क्योंकि जो दूसरे से प्रेम रखता है, उसी ने व्यवस्था पूरी की है। Owe no man any thing, but to love one another: for he that loveth another hath fulfilled the law.

Bible Verses About Marriage

1.Genesis 1:27-28

तब परमेश्वर ने मनुष्य को अपने स्वरूप के अनुसार उत्पन्न किया, अपने ही स्वरूप के अनुसार परमेश्वर ने उसको उत्पन्न किया, नर और नारी करके उसने मनुष्यों की सृष्टि की।

So God created man in his own image, in the image of God created he him; male and female created him them.

उत्पत्ति 1:27

और परमेश्वर ने उन को आशीष दी: और उन से कहा, फूलो-फलो, और पृथ्वी में भर जाओ, और उसको अपने वश में कर लो; और समुद्र की मछलियों, तथा आकाश के पक्षियों, और पृथ्वी पर रेंगने वाले सब जन्तुओ पर अधिकार रखो।

And God blessed them, and God said unto them, Be fruitful, and multiply, and replenish the earth, and subdue it: and have dominion over the fish of the sea, and over the fowl of the air, and over every living thing that moveth upon the earth.

उत्पत्ति 1:28

2.Malachi 2:14-15

इसलिये, क्योंकि यहोवा तेरे और तेरी उस जवानी की संगिनी और ब्याही हुई स्त्री के बीच साक्षी हुआ था जिस का तू ने विश्वासघात किया है।

Yet ye say, Wherefore? Because the LORD hath been a witness between thee and the wife of thy youth, against whom thou hast dealt treacherously: yet is she thy companion, and the wife of thy covenant.

मलाकी 2:14

क्या उसने एक ही को नहीं बनाया जब कि और आत्माएं उसके पास थीं? ओर एक ही को क्यों बनाया? इसलिये कि वह परमेश्वर के योग्य सन्तान चाहता है। इसलिये तुम अपनी आत्मा के विषय में चौकस रहो, और तुम में से कोई अपनी जवानी की स्त्री से विश्वासघात न करे।

And did not he make one? Yet had he the residue of the spirit. And wherefore one? That he might seek a godly seed. Therefore take heed to your spirit, and let none deal treacherously against the wife of his youth.



मलाकी 2:15

3.Isaiah 54:5

क्योकि तेरा कर्त्ता तेरा पति है, उसका नाम सेनाओं का यहोवा है; और इस्राएल का पवित्र तेरा छुड़ाने वाला है, वह सारी पृथ्वी का भी परमेश्वर कहलाएगा।

For thy Maker is thine husband; the LORD of hosts is his name; and thy Redeemer the Holy One of Israel; The God of the whole earth shall he be called.

यशायाह 54:5

4.Song of Solomon 8:6-7

मुझे नगीने की नाईं अपने हृदय पर लगा रख, और ताबीज की नाईं अपनी बांह पर रख; क्योंकि प्रेम मृत्यु के तुल्य सामर्थी है, और ईर्षा कब्र के समान निर्दयी है। उसकी ज्वाला अग्नि की दमक है वरन परमेश्वर ही की ज्वाला है।

Set me as a seal upon thine heart, as a seal upon thine arm: for love is strong as death; jealousy is cruel as the grave: the coals thereof are coals of fire, which hath a most vehement flame.

श्रेष्ठगीत 8:6

पानी की बाढ़ से भी प्रेम नहीं बुझ सकता, और न महानदों से डूब सकता है। यदि कोई अपने घर की सारी सम्पत्ति प्रेम की सन्ती दे दे तौभी वह अत्यन्त तुच्छ ठहरेगी॥

Many glasses of water cannot quench love, neither can the floods drown it: if a man would give all the substance of his house for love, it would utterly be condemned.

श्रेष्ठगीत 8:7

5.Ephesians 4:2-3

अर्थात सारी दीनता और नम्रता सहित, और धीरज धरकर प्रेम से एक दूसरे की सह लो।

With all lowliness and meekness, with longsuffering, forbearing one another in love;

इफिसियों 4:2

Endeavoring to keep the unity of the Spirit in the bond of peace.

इफिसियों 4:3

6.Colossians 3:14

And above all these things put on charity, which is the bond of perfectness.

कुलुस्सियों 3:14

7.Ecclesiastes 4:9

Two are better than one; because they have a good reward for their labour.

सभोपदेशक 4:9

8.Ephesians 5:25

हे पतियों, अपनी अपनी पत्नी से प्रेम रखो, जैसा मसीह ने भी कलीसिया से प्रेम करके अपने आप को उसके लिये दे दिया।

Husbands, love your wives, even as Christ also loved the church, and gave himself for it;

9.Genesis 2:24

इस कारण पुरूष अपने माता पिता को छोड़कर अपनी पत्नी से मिला रहेगा और वे एक तन बने रहेंगे।

Therefore shall a man leave his father and his mother, and shall cleave unto his wife: and they shall be one flesh.

उत्पत्ति 2:24

10.Ecclesiastes 4:12

यदि कोई अकेले पर प्रबल हो तो हो, परन्तु दो उसका साम्हना कर सकेंगे। जो डोरी तीन तागे से बटी हो वह जल्दी नहीं टूटती॥

And if one prevail against him, two shall withstand him; and a threefold cord is not quickly broken.

सभोपदेशक 4:12

11.Mark 10:9

इसलिये जिसे परमेश्वर ने जोड़ा है उसे मनुष्य अलग न करे।

What therefore God hath joined together, let not man put asunder.

मरकुस 10:9

12.Ephesians 5:25-33

हे पतियों, अपनी अपनी पत्नी से प्रेम रखो, जैसा मसीह ने भी कलीसिया से प्रेम करके अपने आप को उसके लिये दे दिया।

Husbands, love your wives, even as Christ also loved the church, and gave himself for it;

इफिसियों 5:25

कि उस को वचन के द्वारा जल के स्नान से शुद्ध करके पवित्र बनाए।

That he might sanctify and cleanse it with the washing of water by the word,

इफिसियों 5:26

और उसे एक ऐसी तेजस्वी कलीसिया बना कर अपने पास खड़ी करे, जिस में न कलंक, न झुर्री, न कोई ऐसी वस्तु हो, वरन पवित्र और निर्दोष हो।

That he might present it to himself a glorious church, not having a spot, or wrinkle, or any such thing; but that it should be holy and without blemish.



इफिसियों 5:27

इसी प्रकार उचित है, कि पति अपनी अपनी पत्नी से अपनी देह के समान प्रेम रखें। जो अपनी पत्नी से प्रेम रखता है, वह अपने आप से प्रेम रखता है।

So ought men to love their wives as their own bodies. He that loveth his wife loveth himself.

इफिसियों 5:28

क्योंकि किसी ने कभी अपने शरीर से बैर नहीं रखा वरन उसका पालन-पोषण करता है, जैसा मसीह भी कलीसिया के साथ करता है

For no man ever yet hated his own flesh; but nourisheth and cherisheth it, even as the Lord the church:

इफिसियों 5:29

इसलिये कि हम उस की देह के अंग हैं।

For we are members of his body, of his flesh, and of his bones.

इफिसियों 5:30

इस कारण मनुष्य माता पिता को छोड़कर अपनी पत्नी से मिला रहेगा, और वे दोनों एक तन होंगे।

For this cause shall a man leave his father and mother, and shall be joined unto his wife, and they two shall be one flesh.

इफिसियों 5:31

यह भेद तो बड़ा है; पर मैं मसीह और कलीसिया के विषय में कहता हूं।

This is a great mystery: but I speak concerning Christ and the church.

इफिसियों 5:32

पर तुम में से हर एक अपनी पत्नी से अपने समान प्रेम रखे, और पत्नी भी अपने पति का भय माने॥

Nevertheless let every one of you in particular so love his wife even as himself; and the wife see that she reverence her husband.

इफिसियों 5:33

Bible Verses About Love

13. Romans 13:8

आपस के प्रेम से छोड़ और किसी बात में किसी के कर्जदार न हो; क्योंकि जो दूसरे से प्रेम रखता है, उसी ने व्यवस्था पूरी की है।

Owe no man any thing, but to love one another: for he that loveth another hath fulfilled the law.

रोमियो 13:8

14. 1 Corinthians 13:4-5

प्रेम धीरजवन्त है, और कृपाल है; प्रेम डाह नहीं करता; प्रेम अपनी बड़ाई नहीं करता, और फूलता नहीं।

Charity suffereth long, and is kind; charity envieth not; charity vaunteth not itself, is not puffed up,

1 कुरिन्थियों 13:4

वह अनरीति नहीं चलता, वह अपनी भलाई नहीं चाहता, झुंझलाता नहीं, बुरा नहीं मानता।

Doth not behave itself unseemly, seeketh not her own, is not easily provoked, thinketh no evil;

1 कुरिन्थियों 13:5

15. 1 Corinthians 13:2

और यदि मैं भविष्यद्वाणी कर सकूं, और सब भेदों और सब प्रकार के ज्ञान को समझूं, और मुझे यहां तक पूरा विश्वास हो, कि मैं पहाड़ों को हटा दूं, परन्तु प्रेम न रखूं, तो मैं कुछ भी नहीं।

And though I have the gift of prophecy, and understand all mysteries, and all knowledge; and though I have all faith, so that I could remove mountains, and have not charity, I am nothing.

1 कुरिन्थियों 13:2

16. 1 Corinthians 16:14

जो कुछ करते हो प्रेम से करो॥

Let all your things be done with charity.

1 कुरिन्थियों 16:14



17.Song of Solomon 8:7

पानी की बाढ़ से भी प्रेम नहीं बुझ सकता, और न महानदों से डूब सकता है। यदि कोई अपने घर की सारी सम्पत्ति प्रेम की सन्ती दे दे तौभी वह अत्यन्त तुच्छ ठहरेगी॥

Many waters cannot quench love, neither can the floods drown it: if a man would give all the substance of his house for love, it would utterly be contemned.

श्रेष्ठगीत 8:7

18.Psalm 143:8:

अपनी करूणा की बात मुझे शीघ्र सुना, क्योंकि मैं ने तुझी पर भरोसा रखा है। जिस मार्ग से मुझे चलना है, वह मुझ को बता दे, क्योंकि मैं अपना मन तेरी ही ओर लगाता हूं॥

Cause me to hear thy lovingkindness in the morning; for in thee do I trust: cause me to know the way wherein I should walk; for I lift up my soul unto thee.

भजन संहिता 143:8

19.Proverbs 3:3-4

कृपा और सच्चाई तुझ से अलग न होने पाएं; वरन उन को अपने गले का हार बनाना, और अपनी हृदय रूपी पटिया पर लिखना।

Let not mercy and truth forsake thee: bind them about thy neck; write them upon the table of thine heart:

नीतिवचन 3:3

और तू परमेश्वर और मनुष्य दोनों का अनुग्रह पाएगा, तू अति बुद्धिमान होगा॥

So shalt thou find favour and good understanding in the sight of God and man.

नीतिवचन 3:4

20.1 John 4:16

यीशु ने उस से कहा, जा, अपने पति को यहां बुला ला।

Jesus saith unto her, Go, call thy husband, and come hither.

यूहन्ना 4:16

21.Ephesians 4:2

अर्थात सारी दीनता और नम्रता सहित, और धीरज धरकर प्रेम से एक दूसरे की सह लो।

With all lowliness and meekness, with longsuffering, forbearing one another in love;

इफिसियों 4:2

22. 1 Peter 4:8

और सब में श्रेष्ठ बात यह है कि एक दूसरे से अधिक प्रेम रखो; क्योंकि प्रेम अनेक पापों को ढांप देता है।

And above all things have fervent charity among yourselves: for charity shall cover the multitude of sins.

1 पतरस 4:8

23. John 15:12

मेरी आज्ञा यह है, कि जैसा मैं ने तुम से प्रेम रखा, वैसा ही तुम भी एक दूसरे से प्रेम रखो।

This is my commandment, That ye love one another, as I have loved you.

यूहन्ना 15:12

24. 1 Corinthians 13:13

पर अब विश्वास, आशा, प्रेम थे तीनों स्थाई है, पर इन में सब से बड़ा प्रेम है।

And now abideth faith, hope, charity, these three; but the greatest of these is charity.

1 कुरिन्थियों 13:13

25. Song of Solomon 4:9

हे मेरी बहिन, हे मेरी दुल्हिन, तू ने मेरा मन मोह लिया है, तू ने अपनी आंखों की एक ही चितवन से, और अपने गले के एक ही हीरे से मेरा हृदय मोह लिया है।

Thou hast ravished my heart, my sister, my spouse; thou hast ravished my heart with one of thine eyes, with one chain of thy neck.

श्रेष्ठगीत 4:9

Bible Verses About Relationships

26. Hebrews 10:24-25

और प्रेम, और भले कामों में उक्साने के लिये एक दूसरे की चिन्ता किया करें।

And let us consider one another to provoke unto love and to good works:

इब्रानियों 10:24

और एक दूसरे के साथ इकट्ठा होना ने छोड़ें, जैसे कि कितनों की रीति है, पर एक दूसरे को समझाते रहें; और ज्यों ज्यों उस दिन को निकट आते देखो, त्यों त्यों और भी अधिक यह किया करो॥

Not forsaking the assembling of ourselves together, as the manner of some is; but exhorting one another: and so much the more, as ye see the day approaching.

इब्रानियों 10:25

27.Proverbs 30:18-19

तीन बातें मेरे लिये अधिक कठिन है, वरन चार हैं, जो मेरी समझ से परे हैं:

There be three things which are too wonderful for me, yea, four which I know not:



नीतिवचन 30:18

आकाश में उकाब पक्षी का मार्ग, चट्टान पर सर्प की चाल, समुद्र में जहाज की चाल, और कन्या के संग पुरूष की चाल॥

The way of an eagle in the air; the way of a serpent upon a rock; the way of a ship in the midst of the sea; and the way of a man with a maid.

नीतिवचन 30:19

28. 1 John 4:12

क्या तू हमारे पिता याकूब से बड़ा है, जिस ने हमें यह कूआं दिया; और आप ही अपने सन्तान, और अपने ढोरों समेत उस में से पीया?

Art thou greater than our father Jacob, which gave us the well, and drank thereof himself, and his children, and his cattle?

यूहन्ना 4:12

29. Proverbs 31:10

भली पत्नी कौन पा सकता है? क्योंकि उसका मूल्य मूंगों से भी बहुत अधिक है। उस के पति के मन में उस के प्रति विश्वास है।

Who can find a virtuous woman? for her price is far above rubies.

नीतिवचन 31:10

30. Ruth 1:16-17

रूत बोली, तू मुझ से यह बिनती न कर, कि मुझे त्याग वा छोड़कर लौट जा; क्योंकि जिधर तू जाए उधर मैं भी जाऊंगी; जहां तू टिके वहां मैं भी टिकूंगी; तेरे लोग मेरे लोग होंगे, और तेरा परमेश्वर मेरा परमेश्वर होगा;

And Ruth said, Intreat me not to leave thee, or to return from following after thee: for whither thou goest, I will go; and where thou lodgest, I will lodge: thy people shall be my people, and thy God my God:

रूत 1:16

जहां तू मरेगी वहां मैं भी मरूंगी, और वहीं मुझे मिट्टी दी जाएगी। यदि मृत्यु छोड़ और किसी कारण मैं तुझ से अलग होऊं, तो यहोवा मुझ से वैसा ही वरन उस से भी अधिक करे।

Where thou diest, will I die, and there will I be buried: the LORD do so to me, and more also, if ought but death part thee and me.

रूत 1:17

31. Romans 12:10

भाईचारे के प्रेम से एक दूसरे पर दया रखो; परस्पर आदर करने में एक दूसरे से बढ़ चलो।

Be kindly affectioned one to another with brotherly love; in honour preferring one another;

रोमियो 12:10

32. 1 Peter 4:8

और सब में श्रेष्ठ बात यह है कि एक दूसरे से अधिक प्रेम रखो; क्योंकि प्रेम अनेक पापों को ढांप देता है।

And above all things have fervent charity among yourselves: for charity shall cover the multitude of sins.

1 पतरस 4:8

33. Ephesians 5:21

और मसीह के भय से एक दूसरे के आधीन रहो॥



Submitting yourselves one to another in the fear of God.

इफिसियों 5:21

34. Ephesians 4:32

और एक दूसरे पर कृपाल, और करूणामय हो, और जैसे परमेश्वर ने मसीह में तुम्हारे अपराध क्षमा किए, वैसे ही तुम भी एक दूसरे के अपराध क्षमा करो॥

And be ye kind one to another, tenderhearted, forgiving one another, even as God for Christ’s sake hath forgiven you.

इफिसियों 4:32

35. Genesis 2:18–25

फिर यहोवा परमेश्वर ने कहा, आदम का अकेला रहना अच्छा नहीं; मैं उसके लिये एक ऐसा सहायक बनाऊंगा जो उससे मेल खाए।

And the LORD God said, It is not good that the man should be alone; I will make him an help meet for him.

उत्पत्ति 2:18

और यहोवा परमेश्वर भूमि में से सब जाति के बनैले पशुओं, और आकाश के सब भाँति के पक्षियों को रचकर आदम के पास ले आया कि देखें, कि वह उनका क्या क्या नाम रखता है; और जिस जिस जीवित प्राणी का जो जो नाम आदम ने रखा वही उसका नाम हो गया।

And out of the ground the LORD God formed every beast of the field, and every fowl of the air; and brought them unto Adam to see what he would call them: and whatsoever Adam called every living creature, that was the name thereof.

उत्पत्ति 2:19

सो आदम ने सब जाति के घरेलू पशुओं, और आकाश के पक्षियों, और सब जाति के बनैले पशुओं के नाम रखे; परन्तु आदम के लिये कोई ऐसा सहायक न मिला जो उससे मेल खा सके।

And Adam gave names to all cattle, and to the fowl of the air, and to every beast of the field; but for Adam there was not found an help meet for him.

उत्पत्ति 2:20

तब यहोवा परमेश्वर ने आदम को भारी नीन्द में डाल दिया, और जब वह सो गया तब उसने उसकी एक पसली निकाल कर उसकी सन्ती मांस भर दिया।

And the LORD God caused a deep sleep to fall upon Adam, and he slept: and he took one of his ribs, and closed up the flesh instead thereof;

उत्पत्ति 2:21

और यहोवा परमेश्वर ने उस पसली को जो उसने आदम में से निकाली थी, स्त्री बना दिया; और उसको आदम के पास ले आया।

And the rib, which the LORD God had taken from man, made he a woman, and brought her unto the man.

उत्पत्ति 2:22

और आदम ने कहा अब यह मेरी हड्डियों में की हड्डी और मेरे मांस में का मांस है: सो इसका नाम नारी होगा, क्योंकि यह नर में से निकाली गई है।

And Adam said, This is now bone of my bones, and flesh of my flesh: she shall be called Woman, because she was taken out of Man.

उत्पत्ति 2:23

इस कारण पुरूष अपने माता पिता को छोड़कर अपनी पत्नी से मिला रहेगा और वे एक तन बने रहेंगे।

Therefore shall a man leave his father and his mother, and shall cleave unto his wife: and they shall be one flesh.

उत्पत्ति 2:24

और आदम और उसकी पत्नी दोनो नंगे थे, पर लजाते न थे॥

And they were both naked, the man and his wife, and were not ashamed.

उत्पत्ति 2:25



36. 1 Peter 3:7

वैसे ही हे पतियों, तुम भी बुद्धिमानी से पत्नियों के साथ जीवन निर्वाह करो और स्त्री को निर्बल पात्र जान कर उसका आदर करो, यह समझ कर कि हम दोनों जीवन के वरदान के वारिस हैं, जिस से तुम्हारी प्रार्थनाएं रुक न जाएं॥

Likewise, ye husbands, dwell with them according to knowledge, giving honor unto the wife, as unto the weaker vessel, and as being heirs together of the grace of life; that your prayers be not hindered.

1 पतरस 3:7

Bible Verses For Wedding Cards

37. 1 Peter 3:7

वैसे ही हे पतियों, तुम भी बुद्धिमानी से पत्नियों के साथ जीवन निर्वाह करो और स्त्री को निर्बल पात्र जान कर उसका आदर करो, यह समझ कर कि हम दोनों जीवन के वरदान के वारिस हैं, जिस से तुम्हारी प्रार्थनाएं रुक न जाएं॥

Likewise, ye husbands, dwell with them according to knowledge, giving honor unto the wife, as unto the weaker vessel, and as being heirs together of the grace of life; that your prayers be not hindered.

1 पतरस 3:7

38. 1 John 4:16

यीशु ने उस से कहा, जा, अपने पति को यहां बुला ला।

Jesus saith unto her, Go, call thy husband, and come hither.

यूहन्ना 4:16

39. Galatians 5:13

हे भाइयों, तुम स्वतंत्र होने के लिये बुलाए गए हो परन्तु ऐसा न हो, कि यह स्वतंत्रता शारीरिक कामों के लिये अवसर बने, वरन प्रेम से एक दूसरे के दास बनो।

For, brethren, ye have been called unto liberty; only use not liberty for an occasion to the flesh, but by love serve one another.

गलातियों 5:13

40. Romans 12:10

भाईचारे के प्रेम से एक दूसरे पर दया रखो; परस्पर आदर करने में एक दूसरे से बढ़ चलो।

Be kindly affectioned one to another with brotherly love; in honor preferring one another;

रोमियो 12:10

41. Genesis 24:64

और रिबका ने भी आंख उठा कर इसहाक को देखा, और देखते ही ऊंट पर से उतर पड़ी

And Rebekah lifted up her eyes, and when she saw Isaac, she lighted off the camel.

उत्पत्ति 24:64



42. Proverbs 3:3

कृपा और सच्चाई तुझ से अलग न होने पाएं; वरन उन को अपने गले का हार बनाना, और अपनी हृदय रूपी पटिया पर लिखना।

Let not mercy and truth forsake thee: bind them about thy neck; write them upon the table of thine heart:

नीतिवचन 3:3

43. Ecclesiastes 4:9-12

भूमि की उपज सब के लिये है, वरन खेती से राजा का भी काम निकलता है।

Moreover the profit of the earth is for all: the king himself is served by the field.

सभोपदेशक 5:9

जो रूपये से प्रीति रखता है वह रूपये से तृप्त न होगा; और न जो बहुत धन से प्रीति रखता है, लाभ से: यह भी व्यर्थ है।

He that loveth silver shall not be satisfied with silver; nor he that loveth abundance with increase: this is also vanity.

सभोपदेशक 5:10

जब सम्पत्ति बढ़ती है, तो उसके खाने वाले भी बढ़ते हैं, तब उसके स्वामी को इसे छोड़ और क्या लाभ होता है कि उस सम्पत्ति को अपनी आंखों से देखे?

When goods increase, they are increased that eat them: and what good is there to the owners thereof, saving the beholding of them with their eyes?

सभोपदेशक 5:11

परिश्रम करने वाला चाहे थोड़ा खाए, था बहुत, तौभी उसकी नींद सुखदाई होती है; परन्तु धनी के धन के बढ़ने के कारण उसको नींद नहीं आती।

The sleep of a labouring man is sweet, whether he eat little or much: but the abundance of the rich will not suffer him to sleep.

सभोपदेशक 5:12

44. Esther 4:14

क्योंकि जो तू इस समय चुपचाप रहे, तो और किसी न किसी उपाय से यहूदियों का छुटकारा और उद्धार हो जाएगा, परन्तु तू अपने पिता के घराने समेत नाश होगी। फिर क्या जाने तुझे ऐसे ही कठिन समय के लिये राजपद मिल गया हो?

For if thou altogether holdest thy peace at this time, then shall there enlargement and deliverance arise to the Jews from another place; but thou and thy father’s house shall be destroyed: and who knoweth whether thou art come to the kingdom for such a time as this?

एस्तेर 4:14

45. John 15:12

मेरी आज्ञा यह है, कि जैसा मैं ने तुम से प्रेम रखा, वैसा ही तुम भी एक दूसरे से प्रेम रखो।

This is my commandment, That ye love one another, as I have loved you.

यूहन्ना 15:12
I

46. Colossians 3:14

और इन सब के ऊपर प्रेम को जो सिद्धता का कटिबन्ध है बान्ध लो।

And above all these things put on charity, which is the bond of perfectness.

कुलुस्सियों 3:14

Bible Verses For Wedding Invitations

47. Romans 12:10

भाईचारे के प्रेम से एक दूसरे पर दया रखो; परस्पर आदर करने में एक दूसरे से बढ़ चलो।



Be kindly affectioned one to another with brotherly love; in honor preferring one another;

रोमियो 12:10

48. Ephesians 4:32

और एक दूसरे पर कृपाल, और करूणामय हो, और जैसे परमेश्वर ने मसीह में तुम्हारे अपराध क्षमा किए, वैसे ही तुम भी एक दूसरे के अपराध क्षमा करो॥

And be ye kind one to another, tenderhearted, forgiving one another, even as God for Christ’s sake hath forgiven you.

इफिसियों 4:32

49. Song of Solomon 2:16

मेरा प्रमी मेरा है और मैं उसकी हूं, वह अपनी भेड़-बकरियां सोसन फूलों के बीच में चराता है।

My beloved is mine, and I am his: he feedeth among the lilies.

श्रेष्ठगीत 2:16

50. Song of Solomon 8:7

पानी की बाढ़ से भी प्रेम नहीं बुझ सकता, और न महानदों से डूब सकता है। यदि कोई अपने घर की सारी सम्पत्ति प्रेम की सन्ती दे दे तौभी वह अत्यन्त तुच्छ ठहरेगी॥

Many waters cannot quench love, neither can the floods drown it: if a man would give all the substance of his house for love, it would utterly be contemned.

श्रेष्ठगीत 8:7

51. Song of Solomon 3:4

मुझ को उनके पास से आगे बढ़े थोड़े ही देर हुई थी कि मेरा प्राणप्रिय मुझे मिल गया। मैं ने उसको पकड़ लिया, और उसको जाने न दिया जब तक उसे अपनी मात के घर अर्थात अपनी जननी की कोठरी में न ले आई॥

It was but a little that I passed from them, but I found him whom my soul loveth: I held him, and would not let him go, until I had brought him into my mother’s house, and into the chamber of her that conceived me.

श्रेष्ठगीत 3:4

52. John 15:12

मेरी आज्ञा यह है, कि जैसा मैं ने तुम से प्रेम रखा, वैसा ही तुम भी एक दूसरे से प्रेम रखो।



This is my commandment, That ye love one another, as I have loved you.

यूहन्ना 15:12

53. Romans 5:5

और आशा से लज्ज़ा नहीं होती, क्योंकि पवित्र आत्मा जो हमें दिया गया है उसके द्वारा परमेश्वर का प्रेम हमारे मन में डाला गया है।

And hope maketh not ashamed; because the love of God is shed abroad in our hearts by the Holy Ghost which is given unto us.

रोमियो 5:5

54. Jeremiah 31:3

यहोवा ने मुझे दूर से दर्शन देकर कहा है। मैं तुझ से सदा प्रेम रखता आया हूँ; इस कारण मैं ने तुझ पर अपनी करुणा बनाए रखी है।

The LORD hath appeared of old unto me, saying, Yea, I have loved thee with an everlasting love: therefore with lovingkindness have I drawn thee.

यिर्मयाह 31:3

55. Matthew 19:6

सो व अब दो नहीं, परन्तु एक तन हैं: इसलिये जिसे परमेश्वर ने जोड़ा है, उसे मनुष्य अलग न करे।

Wherefore they are no more twain, but one flesh. What therefore God hath joined together, let not man put asunder.

मत्ती 19:6

56. Philippians 1:7

उचित है, कि मैं तुम सब के लिये ऐसा ही विचार करूं क्योंकि तुम मेरे मन में आ बसे हो, और मेरी कैद में और सुसमाचार के लिये उत्तर और प्रमाण देने में तुम सब मेरे साथ अनुग्रह में सहभागी हो।

Even as it is meet for me to think this of you all, because I have you in my heart; inasmuch as both in my bonds, and in the defence and confirmation of the gospel, ye all are partakers of my grace.

फिलिप्पियों 1:7

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *